Class 12 Political Science Ch-14 MCQs With Answers Pdf Download | अध्याय-14 काँग्रेस प्रणाली : चुनौतियाँ और पुनर्स्थापना वस्तुनिष्ठ प्रश्न-उत्तर

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

क्या आप Class 12 के विद्यार्थी हैं और आप Class 12 Political Science Ch-14 MCQs in Hindi में महत्वपूर्ण MCQs के तलाश में है ?क्योंकि यह अध्याय परीक्षा के लिए काफी महत्वपूर्ण है इस अध्याय से काफी प्रश्न परीक्षा में आ चुके हैं | जिसके कारण इस अध्याय का प्रश्न उत्तर जाना काफी जरूरी है|

तो विद्यार्थी इस लेख को पढ़ने के बाद आप इस अध्याय से काफी अंक परीक्षा में प्राप्त कर लेंगे ,क्योंकि इसमें सारी परीक्षा से संबंधित प्रश्नों का विवरण किया गया है तो इसे पूरा अवश्य पढ़ें |

मैं यह लेख किस आधार पर किस आधार पर लिखा रहा हूं = मैं खुद कक्षा 12वीं का टॉपर रह चुका हूं और मुझे यह ज्ञात है कि किस प्रकार के प्रश्न Class 12 के परीक्षा में पूछे जाते हैं| वर्तमान समय में ,मैं शिक्षक का भी भूमिका निभा रहा हूं ,और अपने छात्रों को कक्षा 12वीं के महत्वपूर्ण जानकारी व विषयों का अभ्यास भी कराता हूं | मैंने यहां mcqs का लेख अपने 5 सालों के अधिक अनुभव से लिखा है | इस पोस्ट के सहायता से आप परीक्षा में इस अध्याय से इतिहास में काफी अच्छे अंक प्राप्त कर पाएंगे |

Class 12 Political Science Ch-14 MCQs With Answers Pdf Download | अध्याय-14 काँग्रेस प्रणाली : चुनौतियाँ और पुनर्स्थापना वस्तुनिष्ठ प्रश्न-उत्तर

कक्षा | Class12th 
अध्याय | Chapter14
अध्याय का नाम | Chapter Nameकाँग्रेस प्रणाली : चुनौतियाँ और पुनर्स्थापना
बोर्ड | Boardसभी हिंदी बोर्ड
किताब | Book एनसीईआरटी | NCERT
विषय | Subjectराजनीति विज्ञान | Political science
मध्यम | Medium हिंदी | HINDI
अध्ययन सामग्री | Study Materialsबहुविकल्पीय प्रश्न | MCQ

स्मरणीय बिन्दु (Points to Remember)

स्वतन्त्रता के बाद भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को सत्ता प्राप्त हुई। नेहरू के नेतृत्व में उसने पहले, दूसरे व तीसरे चुनाव है। विशाल बहुमत प्राप्त किया। लेकिन 1964 में उनकी मृत्यु के बाद सक्षम नेतृत्व न रहने के कारण कांग्रेस के प्रभुत्व का पतन हो गया। कुछ अन्तराल के बाद इन्दिरा गाँधी ने उसी प्रभुत्व को पुनः स्थापित किया। 

नेहरू भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के बेजोड़ नेता थे। उनके उत्तराधिकारी का प्रश्न कभी-कभी उठता था लेकिन उनके जीवन काल में इस प्रश्न का समाधान नहीं हुआ। उनकी मृत्यु के बाद कुछ नेताओं (जैसे मोरारजी देसाई तथा जगजीवन राम `ने उनका उत्तराधिकारी बनने का प्रयास किया लेकिन पार्टी के अध्यक्ष (कामराज) ने पहले शास्त्रीजी और फिर इन्दिर गाँधी को यह अवसर दिया। उत्तराधिकार का सारा अभ्यास शान्तिपूर्ण व लोकतान्त्रिक तरीके से हुआ। 

नेहरू के निधन के बाद कांग्रेस-विरोधवाद की लहर बहुत तेज हो गई। दल-बदल की प्रक्रिया ने अपना रंग दिखाया। 1967 के चुनावों में कांग्रेस को लोकसभा में बहुमत मिला। अतः इन्दिरा गाँधी की सरकार काम करती रही लेकिन अनेक राज्यों में कांग्रेस-विरोधी पार्टियाँ सत्ता में आयीं। 

1971 के मध्यावधि चुनावों में जीतने के बाद केन्द्र पर इन्दिरा गाँधी की सबल सरकार बनी। इसी वर्ष बांग्लादेश पु में विजय ने इन्दिरा गाँधी को इतना लोकप्रिय नेता बना दिया कि 1972 में राज्यों की विधानसभाओं के चुनाव में कांग्रेस को विशाल बहुमत मिला। अब कांग्रेस की प्रभुत्वशाली स्थिति बहाल हो गई।

कांग्रेस के पुराने व वरिष्ठ नेताओं (जैसे मोरारजी देसाई, अतुल्य घोष, एस. के. पाटिल व निजलिंगप्पा) ने अपनी पसन्द के व्यक्ति को राष्ट्रपति बनाकर प्रधानमंत्री को अपने प्रभावाधीन करने का खेल खेला। उन्होंने संजीवा रेट्रो को अपना उम्मीदवार बनाया लेकिन इन्दिरा गाँधी के गुट के समर्थन से वी.वी. गिरि की विजय ने उनकी आशाओं पर पानी फेर दिया।

पुराने व वरिष्ठ नेताओं ने खिन्न होकर इन्दिरा गाँधी को कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से वंचित कर दिया। तब कांग्रेस में फूट पड़ी। इन्दिरा गाँधी के गुट ने अलग कांग्रेस बना ली जिसे नयी या सत्ताधारी कांग्रेस कहा गया।

इस संघर्ष में कांग्रेस के कनिष्ठ व युवा नेताओं ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। उन्होंने खुलकर पुराने नेतृत्व को चुनौती दी। तथा अपना समाजवादी कार्यक्रम प्रस्तुत करके दल की छवि को बिगड़ने से सुधारा। इसी गुट को युवा तुर्कों का नाम दिया गया।

1964 से 1972 तक की अवधि में कांग्रेस के समक्ष गम्भीर चुनौतियाँ आय लेकिन उसने उनका मुकाबला किया। इन्दिरा गाँधी को श्रेय जाता है कि उन्होंने कांग्रेस व्यवस्था की पुनः स्थापना की।

1971 के चुनावों में कांग्रेस के पुराने या वरिष्ठ नेताओं (जिन्हें सिंडीकेट कहा गया) ने ‘इन्दिरा हटाओ’ का नकारात्मक नारा दिया लेकिन इन्दिरा गाँधी के सकारात्मक नारे ‘गरीबी हटाओ’ ने अपना चमत्कारी प्रभाव दिखाया। 

अब सरकार ने ‘गरीबी हटाओ’ के विषय को विशेष महत्व दिया। पाँचवीं पंचवर्षीय योजना (1974-79) में ऐसे विशेष प्रावधान किए गए। फिर आगामी पंचवर्षीय योजनाओं में भी दरिद्रता निवारण के कार्यक्रम रखे गए। खेद की बात है कि राजनीतिक दलों ने इस मुद्दे को वोट खींचने का यन्त्र बना लिया। भ्रष्टाचार बढ़ा लेकिन गरीबी का कुछ सीमा तक निराकरण हो सका।

वस्तुनिष्ठ प्रश्न | Class 12 Political Science Ch-14 MCQs With Answers

Class 12 Political Science Ch-14 MCQs
Class 12 Political Science Ch-14 MCQs

1. नेहरू के निधन के बाद उनका राजनीतिक उत्तराधिकारी कौन बना?

(क) इन्दिरा गाँधी

(ग) के. कामराज

(ख) गुलजारी लाल नन्दा

(घ) लाल बहादुर शास्त्री 

2. नेहरू के राजनीतिक उत्तराधिकारी के चयन में किसने निर्णायक भूमिका निभाई ?

(क) राष्ट्रपति राधाकृष्णन् 

(ख) कार्यवाहक प्रधानमंत्री गुलजारीलाल नन्दा 

(ग) पार्टी अध्यक्ष कामराज

(घ) उप-राष्ट्रपति जाकिर हुसैन

3. जब 1969 में कांग्रेस में फूट पड़ी, उस समय पार्टी का अध् यक्ष कौन था ?

(क) के. कामराज 

(ख) जगजीवन राम 

(ग) एस. निजलिंगप्पा

(घ) चन्द्रशेखर

4. सिंडिकेट पदबन्ध से किनका सम्बन्ध था ?

(क) कांग्रेस के वरिष्ठ नेतागण

(ख) युवा तुर्क

(ग) कांग्रेस के सभी नेतागण

(घ) कांग्रेस के इन्दिरा-विरोधी वरिष्ठ नेतागण

5. 1959 में स्वतन्त्र पार्टी किसने बनाई ?

(क) राजगोपालाचारी

(ख) चौधरी चरण सिंह 

(ग) कामराज नादर 

(घ) जयप्रकाश नारायन

6. युवा तुर्क गुट का अग्रणी सदस्य कौन था?

(क) राम सुभाग सिंह 

(ख) चन्द्रशेखर 

(ग) जगजीवन राम

(घ) शंकर दयाल शर्मा 

7. 1969 में नयी कांग्रेस के बम्बई अधिवेशन में किसने अ यक्षता की ?

(क) शंकर दयाल शर्मा

(ख) सी. सुब्रह्मण्यम

(ग) के. कामराज

(घ) जगजीवन राम

8. किस पंचवर्षीय योजना में सबसे पहले ‘गरीबी हटाओ’ के कार्यक्रम को विशेष स्थान दिया गया ?

(क) पहली योजना (1951-56)

(ख) तीसरी योजना (1961-66)

(ग) पाँचवीं योजना (1974-79)

(घ) छठी योजना (1980-85)

9. 1971 के चुनावों में कांग्रेस को लोकसभा में कुल कितने स्थान मिले ?

(क) 283

(ख) 300

(ग) 320

(घ) 352

10. ‘गरीबी हटाओ’ के नारे ने किस चुनाव में अपना चमत्कारी प्रभाव दिखाया?

(क) 1957 का दूसरा चुनाव

(ख) 1962 का तीसरा चुनाव

(ग) 1967 का चौथा चुनाव

(घ) 1971 का मध्यावधि चुनाव

11. गरीबी हटाओ का नारा किसने दिया? (RSEB, 2016)

(क) पं. जवाहरलाल नेहरू 

(ख) लाल बहादुर शास्त्री

(ग) इन्दिरा गाँधी

(घ) कामराज

12. अखिल भारतीय कांग्रेस का विभाजन किस वर्ष में हुआ ?

(क) 1967 

(ख) 1968

(ग)1969

(घ) 1977

13. विश्वास प्रस्ताव के आधार पर सर्वप्रथम किस प्रधानमंत्री को त्यागपत्र देना पड़ा ?

(क) मोरारजी देसाई

(ख) चौधरी चरण सिंह

(ग) वी. पी. सिंह

(घ) चन्द्रशेखर 

class 12th NotesMCQ
HistoryPolitical Science
EnglishHindi

14. 1980 के निर्वाचन के समय भारत के प्रधानमंत्री थे-

(क) इन्दिरा गाँधी

(ख) मोरारजी देसाई

(ग) चौधरी चरण सिंह

(घ) वी. पी. सिंह

15. निम्नलिखित में से कौन नेता श्रीमती इन्दिरा गाँधी की सरकार में उप प्रधानमंत्री थे? 

(क) मोरारजी देसाई

(ख) जगजीवन राम 

(ग) वाई. बी. चौहान

(घ) चौधरी चरण सिंह

16. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की पहली महिला अध्यक्ष कौन थी ?

(क) एनी बेसेन्ट

(ख) इन्दिरा गाँधी

(ग) सोनिया गाँधी

(घ) इनमें से कोई नहीं

17. 1971 के “ग्रैण्ड अलाएंस” के बारे में कौन-सा कथन ठीक है?

(क) इसका गठन गैर-कम्युनिस्ट और गैर कांग्रेसी दलों ने किया था। 

(ख) इसके पास एक स्पष्ट राजनीतिक तथा विचार-

धारात्मक कार्यक्रम था।

(ग) इसका गठन सभी गैर-कांग्रेसी दलों ने एकजुट होकर किया था।

(घ) इनमें से सभी गलत हैं।

18. गैर-कांग्रेसवाद का नारा किसने दिया ? (BSEB, 2013)

(क) राम मनोहर लोहिया 

(ख) कर्पूरी ठाकुर

(ग) चन्द्रशेखर

(घ) कामराज

19. 1971 के आम चुनाव में इन्दिरा गाँधी ने कौन-सा नारा दिया ?

(क) दहेज हटाओ 

(ख) गरीबी हटाओ

(ग) भ्रष्टाचार हटाओ 

(घ) बेरोजगारी हटाओ 

20. कांग्रेस फॉर डेमोक्रेसी के संस्थापक नेता कौन थे ?

(क) बहुगुणा

(ख) इंदिरा गांधी 

(ग) जगजीवन राम 

(घ) रामविलास पासवान

21. भारत में किस अनुच्छेद के तहत राष्ट्रीय आपातकाल लगा जाता है?

(क) अनुच्छेद 350

(ख) अनुच्छेद 356

(ग) अनुच्छेद 360 

(घ) अनुच्छेद 368

उत्तर – 1. (घ), 2. (ग), 3. (ग), 4. (घ), 5. (क), 6. (ख), 7. (घ), 8. (ग), 9. (घ), 10. (घ), 11. (ग), 12. (ग), 13. (क), 14. (क), 15. (क), 16. (क), 17. (ग), 18. (क), 19. (ख), 20. (ग), 21. (ख) ।]


class12.in

FAQs

1. काग्रेस-विरोधवाद का अर्थ बताइए। (BSEB, 2015) 

उत्तर – नेहरू के निधन के बाद अनेक पार्टियों ने यह रणनीति बनाई कि किसी कीमत पर कांग्रेस को सत्ता से बाहर किया जाए।

2. ‘सिंडिकेट’ शब्द का क्या आशय था ? 

उत्तर- यह कांग्रेस के पुराने व वरिष्ठ नेताओं का गुट था जिसने इन्दिरा गाँधी को सत्ता से वंचित करने हेतु उन्हें दल की प्राथमिक सदस्यता से वंचित कर दिया।

3. कांग्रेस व्यवस्था की बहाली किसे कहा गया ? 

उत्तर-1967 के चुनावों के बाद कांग्रेस की प्रभुत्वशाली स्थिति को धक्का लगा लेकिन इन्दिरा गाँधी के नेतृत्व में कांग्रेस ने 1971 के चुनावों के बाद वही प्रभुत्वशाली स्थिति स्थापित कर ली।

4. युवा तुर्क कौन थे ?

 उत्तर-यह कांग्रेस के कनिष्ठ व युवा वर्ग के नेताओं का 7 समूह था जिन्होंने पुराने नेतृत्व को चुनौती देकर इन्दिरा गाँधी को संघर्ष में विजयी बनाया।

5. बिमारू पदबन्ध का क्या अर्थ है ?

उत्तर—यह भारत के चार बहुत पिछड़े राज्यों का सामूहिक नाम है- बिहार, मध्य प्रदेश, राजस्थान व उत्तर प्रदेश ।

6. जाकिर हुसैन की मृत्यु के पश्चात् भारत के दोनों राष्ट्रपतियों के नाम लिखो।

 उत्तर-(i) वाराहगिरि वेंकटगिरि, (ii) न्यायमूर्ति मुहम्मद हिदायतुल्लाह।

Leave a Comment