कक्षा 12वी के महत्वपूर्ण कार्यसूची | Class 12th Important Hindi Karya Suchi

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

क्या आप CBSE & NCERT Class 12th Important Hindi karya suchi का समाधान खोज रहे हैं? ताकि अपने class 12 Hindi के परीक्षा में काफी अच्छे अंक प्राप्त कर सकें | तो यह वेबसाइट आपके लिए है | यहां पर आपको class 12 की तैयारी के लिए अति आवश्यक समाधान उपलब्ध कराया जाता है |

तो छात्रों, इस लेख को पढ़ने के बाद, आपको इस अध्याय से परीक्षा में बहुत अधिक अंक प्राप्त होंगे, क्योंकि इसमें सभी परीक्षाओं से संबंधित प्रश्नों का वर्णन किया गया है, इसलिए इसे पूरा अवश्य पढ़ें।

मैं खुद 12वीं का टॉपर रहा हूं और मुझे पता है कि 12वीं की परीक्षा में किस तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं। वर्तमान में, मैं एक शिक्षक की भूमिका भी निभा रहा हूँ, और अपने छात्रों को कक्षा 12वीं की महत्वपूर्ण जानकारी और विषयों का अभ्यास भी कराता हूँ। मैंने यह लेख 5 वर्षों से अधिक के अपने अनुभव के साथ लिखा है। इस पोस्ट की मदद से आप परीक्षा में इस अध्याय से भूगोल में बहुत अच्छे अंक प्राप्त कर सकेंगे।

कक्षा 12वी के महत्वपूर्ण कार्यसूची | Class 12th Important Hindi Karya Suchi

कक्षा | Class12th 
अध्याय का नाम | Chapter Nameकार्यसूची | karya suchi
किताब | Bookहिंदी व्याकरण | HINDI GRAMMAR
बोर्ड | Boardसभी हिंदी बोर्ड
किताब | Book एनसीईआरटी | NCERT
विषय | Subjectहिंदी | HINDI
अध्ययन सामग्री | Study Materialsनिबन्ध | Essays


कार्यसूची

Class 12th Important Hindi Karya Suchi
Class 12th Important Hindi Karya Suchi

विभिन्न संस्थाओं और कार्यालयों में किसी विषय या समस्या पर गंभीरतापूर्वक विचार-विनिमय करने और निर्णय पर पहुंचने के लिए अनेक समितियों का गठन किया जाता है। 

संसद विधानसभा तथा नगर निगम में इन समितियों का विशेष महत्त्व है। आप कई समितियों के नाम 1 सुनते-पढ़ते रहते हैं जैसे- ‘लोक लेखा समिति’, ‘प्रवर समिति’; ‘नियुक्ति एवं पदोन्नति समिति’ आदि।

“इन समितियों के सदस्य निश्चित समय पर एक निश्चित स्थान पर बैठकर विषय के प्रत्येक पक्ष पर चर्चा करते हैं और निर्णय लेते हैं। सरकारी कार्यालयों और मंत्रालयों में विशेषज्ञ समितियाँ सलाहकार समितियां, चयन समितियाँ, विभागीय पदोन्नति समितियाँ होती हैं। इनका अध्यक्ष और एक सचिव होता है। 

समिति की बैठक का संयोजन प्रायः समिति का सचिव करता है। सचिव को संयोजक भी कहते हैं। बैक की कार्यवाही होने से अध्यक्ष या सचिव सदस्यों का स्वागत करता है। बैठक प्रारम्भ करने से पूर्व सचिव / संयोजक विचारणीय विषयों का संक्षिप्त परिचर देता है। 

समिति की बैठक आयोजित होने से पहले एक कार्यसूची (Agenda ) तैयार की जाती है। इस कार्यसूची में विचारणीय विषयों का उल्लेख होता है। यदि आवश्यक हो तो उन पर संक्षिप्त टिप्पणी भी दी जाती है। 

विचारणीय विषयों को क्रमवार लिखा जाता है। कार्यसूची में उन विषयों को दिया जाता है जो समिति के उद्देश्यों की पूर्ति करते हैं। इससे निम्नलिखित लाभ हैं : समिति की बैठक का समय अनावश्यक रूप से नष्ट नहीं होता। सदस्य केवल उन्हीं मुद्दों पर विचार-विमर्श करते हैं जो कार्यसूची में दिए गए हैं। सदस्यों को विषय से इधर-उधर भटकने का अवकाश नहीं मिलता।

कार्यसूची तैयार हो जाने पर समिति के अध्यक्ष और सचिव का अनुमोदन लिया जाता है। इसके पश्चात् समिति की बैठक की तारीख निर्धारित कर सदस्यों का अग्रिम सूचना देकर उन्हें तारीख, समय और स्थान के बारे में लिखित रूप में बता दिया जाता है तथा कार्यसूची की एक प्रति भी भेज दी जाती है। 

इससे सदस्य बैठक में भाग लेने से पूर्व संबंधित मुद्दों पर अपेक्षित सामग्री एकत्रित कर अपने को तैयार कर लेते हैं। इससे वे मुद्दों पर सार्थक एवं सटीक चर्चा कर सकते हैं।


कार्यसूची के नमूने


1. डी. ए.बी. विद्यालय कार्यकारिणी समिति की नए शैक्षिक सत्र प्रारम्भ होने से पूर्व की बैठक हेतु कार्यसूची ।

बैठक की तिथि- 25 मार्च, 200… सायं 3 बजे

स्थान- विद्यालय में प्रधानाचार्य कस

कार्यसूची

1. समिति के सदस्यों का स्वागत ।

2. पिछली बैठक के कार्यवृत्त की संपुष्टि । 

3. 1 अप्रैल से प्रारम्भ होने वाले शिक्षा सत्र हेतु शिक्षण शुल्क में 10% बोतरी का प्रस्ताव ।

4. शारीरिक शिक्षक श्री राजसिंह का त्यागपत्र ।

5. नए शारीरिक शिक्षक हेतु चयन प्रक्रिया का निवारण। 

6. नए वर्ष हेतु तैयार बजट पर चर्चा एवं अनुमोदन ।

7. अध्यक्ष महोदय की अनुमति से अन्य विषय पर चर्चा। 

8. धन्यवाद ज्ञापन ।

हस्ताक्षर

————— 

प्रबंधक

विद्यालय कार्यकारिणी समिति

2. नवोदय विद्यालय, हजारीबाग की सांस्कृतिक समिति की होने वाली बैठक के लिए कार्यसूची। 

बैठक की तिथि: 5 जुलाई, 200 सायं 4 बजे ।

स्थान: विद्यालय की गोष्ठी कक्ष।

कार्यसूची

1. सदस्यों का स्वागत ।

2. पिछली बैठक के कार्यवृत्त की संपुष्टि । 

3. स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम की तारीख एवं समय पर विचार।

4. कार्यक्रम की कार्य-योजना पर विचार। 

5. आमंत्रित अतिथियों की सूची बनाना ।

6. जलपान / भोज के आयोजन पर विचार | 

7. अध्यक्ष महोदय की अनुमति से अन्य विषय पर चर्चा। 

8. धन्यवाद ज्ञापन । 

हस्ताक्षर

——–

प्रबंधक

विद्यालय सांस्कृतिक समिति

class 12th NotesMCQ
HistoryPolitical Science
EnglishHindi

3.रेजिडेंट्स वेलफेयर समिति, टॉवर चौक, देवघर की कार्यकारिणी समिति की बैठक हेतु कार्यसूची ।

तिथि एवं समय : 10 अगस्त, 200 अपराह्न 1.30 बजे।

स्थान: सामुदायिक केंद्र।

कार्यसूची

1. समिति के सदस्यों का स्वागत ।

2. पिछली बैठक के कार्यवृत्त की संपुष्टि ।

3. वार्षिक आम सभा के कार्यक्रम का निर्धारण । 

4. चुनाव हेतु तिथि एवं कार्यक्रम का निर्धारण ।

5. वर्ष भर के कार्यक्रमों का लेखा-जोखा तैयार करना ।

6. समिति के आय के स्रोत बढ़ाना।

7. वार्षिक आय-व्यय का विवरण तैयार करना।

8. अन्य विषय अध्यक्ष की अनुमति से ।

9. धन्यवाद ज्ञापन ।

हस्ताक्षर

—————-

सचिव 

रेजिडेंट्स वेलफेयर समिति

टॉवर चौक, देवपर



class12.in

FAQs


प्रश्न 1.कार्य अनुसूची नियम क्या है?

कार्य अनुसूची नियमों का उपयोग उस अवधि को परिभाषित करने के लिए किया जाता है जब कार्य अनुसूची का उपयोग किया जाना है और उस अवधि का दिन जब कार्य अनुसूची उत्पन्न की जानी है।

प्रश्न 2. आपका दैनिक कार्यक्रम उत्तर क्या है?

प्रश्न का उत्तर देने के लिए, अपने कार्यदिवस का वर्णन करने से पहले अपनी दैनिक गतिविधियों पर चर्चा करें। उदाहरण: “नाश्ते के बाद, मैं यह देखने के लिए अपने संदेशों और ईमेलों की जाँच करता हूँ कि कहीं किसी चीज़ पर तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता तो नहीं है।

Leave a Comment