JAC Board Class 12 Sociology Previous Year Question Paper (PDF)

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

JAC Board Class 12 Sociology Previous Year Question Paper (PDF), JAC Board Class 12 Sociology Previous Year Question Paper, Class 12 Sociology Previous Year Question Paper


JAC Board Class 12 Sociology Previous Year Question Paper (PDF)


Class12th 
Book NCERT
SubjectSociology
Medium Hindi
Study MaterialsImportant questions answers
Download PDFJAC Board Class 12 Sociology Previous Year Question Paper
JAC Board Class 12 Sociology Previous Year Question Paper PDF

1.भारत में पहली बार किस वर्ष राष्ट्रीय जनसंख्या नीति घोषित की गई ? (In which year was the National Population Policy announced for the first time in India ?)

(1) 1973

(2) 1976

(3) 1977

(4) 1983 

Ans. (2)

2. हिन्दू विवाह कानून कब बना था ? (When was the Hindu Marriage Act passed ? )

(1) 1954 

(2) 1955 

(3) 1958 

(4) 1961 

Ans. (2)

3. निम्न में से किसे ‘प्रजातंत्र का चौथा स्तंभ’ कहा जाता है ? (Which is known as the ‘Fourth Pillar of Democracy’ ?)

(1) जनसंचार (Mass Media)

(2) संसद (Parliament) 

(3) न्यायपालिका ( Judiciary)

(4) मंत्रिपरिषद (Council of Ministers)

Ans. (1)

4. ग्रामीण समाज की कौन-सी विशेषता है ? (Feature of a rural society is)

(1) सामाजिक गतिशीलता (social mobility)

(2) श्रम विभाजन (division of labour)

(3) कृषि व्यवसाय (agriculture occupation)

(4) घनी जनसंख्या (dense population)

Ans. (3)

5. उदार राष्ट्रीयता का काल है (The era of Liberal Nationalism is)

(1) 1885-1905

(2) 1905-1908

(3) 1919-1947

(4) 1947-1958

Ans. (1)

6.’जनांकिकी’ शब्द किस भाषा से लिया गया हैं ? (The word ‘Demography’ has been taken from which of the following languages ? )

(1) संस्कृत ( Sanskrit)

(2) फ्रेंच (French)

(3) उर्दू (Urdu)

(4) ग्रीक (Greek) 

Ans. (4)

7. आधुनिकीकरण संबंधित है (Modernisation is related to)

(1) परम्परागत मूल्य से (traditional value)

(2) बंद सामाजिक व्यवस्था से (closed social system)

(3) अर्जित परिस्थिति से ( achieved status)

(4) प्रथा से (custom)

Ans. (3)

8. निम्नलिखित में से किसका संबंध जनसंख्या के ‘स्वयं समायोजन चक्र’ से है ? (Who of the following is related to ‘self adjusting cycle’ of population ?)

(1) एडम स्मिथ (Adam Smith)

(2) चाइल्ड (Child ) 

(3) माल्थस (Malthus)

(4) इनमें से कोई नहीं (None of them)

Ans. (1)

9. उपनिवेशवाद का संबंध है (Colonialism is related to)

(1) पूँजीवाद से (Capitalism)

(2) समाजवाद से (Socialism) 

(3) साम्यवाद से (Communism)

(4) साम्राज्यवाद से (Imperialism)

Ans. (4)

10. जनसंख्या की दृष्टि से भारत का विश्व में कौन-सा स्थान है ? (What is India’s rank in the world in terms of population ?)

(1) दूसरा (Second)

(2) तीसरा (Third)

(3) पाँचवाँ (Fifth)

(4) आठवाँ (Eighth) 

Ans. (1)

11. समाज का निर्माण निम्न में से किससे होता है? (Which of the following constitutes a society ?)

(1) व्यक्तियों से (From people) 

(2) संस्थाओं से (From institutions)

(3) सामाजिक संबंधों से (From social relationships)

(4) इनमें से सभी (All of these)

Ans. (4)

12. हरित क्रांति किस राज्य में ज्यादा सफल रहा ? (In which state is Green Revolution highly successful ?)

(1) गुजरात (Gujarat)

(2) असम (Assam)

(3) पंजाब (Panjab)

(4) बिहार (Bihar).

Ans. (3)

13. मेधा पाटकर निम्न में से किस आन्दोलन से जुड़ी हैं ? (Medha Patkar is related to which of the following movements?)

(1) छात्र आन्दोलन (Student movement)

(2) पर्यावरण संबंधी आन्दोलन (Environmental movement)

(3) किसान आन्दोलन (Farmer movement)

(4) नक्सली आन्दोलन (Naxalite movement)

Ans. (2)

14. भारतीय समुदाय की कौन-सी सर्वप्रथम विशेषता है ? (Which is the formemost feature of Indian community?)

(1) वर्ण व्यवस्था (Varna system)

(2) जजमानी ब्यवस्था (Jajmani system)

(3) अनेकता में एकता (Unity in diversity)

(4) इनमें से सभी (All of these)

Ans. (1)

15. औद्योगीकरण के परिणामस्वरूप शहरों में किस तरह का प्रदूषण उत्पन्न होता है ? (Which type of pollution is produced in towns as a result of industrialization ?)

(1) वायु प्रदूषण (Air pollution) 

(2) जल प्रदूषण (Water pollution)

(3) ध्वनि प्रदूषण (Sound pollution) 

(4) इनमें से सभी (All of these)

Ans. (4)

16. सामाजिक परिवर्तन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं ? (Which of the following plays an important role in social change 2)

(1) टीवी (TV)

(2) समाचार पत्र (Newspaper)

(3) रेडियो (Radio)

(4) इनमें से सभी (All of these)

Ans. (4)

17. असहयोग आन्दोलन किसने प्रारंभ किया ? (Who started Non- cooperation Movement ?)

(1) नेहरू (Nehru)

(2) महात्मा गाँधी (Mahatma Gandhi)

(3) तिलक (Tilak)

(4) सरदार पटेल (Sadar Patel) 

Ans. (2)

18. ‘जनांकिकी’ शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग किसने किया ? (Who first used the term ‘Demography’ ?)

(1) माल्थस (Malthus)

(2) सोरोकीन (Sorokin)

(3) बार्कले (Berkeley)

(4) गुडलाई (Goodlord) 

Ans. (4)

19. निम्न में से किस आन्दोलन का संबंध पर्यावरण समस्याओं से भी जुड़ा हुआ है ? (Which of the following movements is also associated with environmental issues?)

(1) आदिवासी आन्दोलन (Tribal movement)

(2) दलित आन्दोलन (Dalit movement)

(3) चिपको आन्दोलन (Chipko movement)

(4) पिछड़े वर्ग आन्दोलन (Backward class movement) 

Ans. (3)

20. धर्म निरपेक्षता का अर्थ क्या है? (What is the meaning of secularism?)

(1) विभिन्न धर्मो का सह-अस्तित्व (Co-existence of different religions)

(2) अन्य धर्मो के प्रति श्रद्धा (Respect for other religions)

(3) राज्य का अपना कोई धर्म न होना (The state not having its own religion)

(4) इनमें से सभी (All of these)

Ans. (4) 

21. झारखण्ड राज्य की स्थापना किस वर्ष हुई ? (In which year the state of Jharkhand established 7)

(3) 2000

(4) 2001 

(2) 1999

(1) 1996

Ans. (3)

22. समाजशास्त्र की स्थापना किस वर्ष हुई ? (Sociology was founds in the year)

(3) 1798

(4) 1828 

(1) 1818

(2) 1838

Ans. (2)

23. राष्ट्रवाद का अर्थ है (Nationalism means)

(1) सामान्य सामाजिक पृष्ठभूमि (common social background)

(2) सामान्य जाति पृष्ठभूमि (common caste background)

((3) सामान्य भौगोलिक भूमि (common geographical background)

(4) इनमें से कोई नहीं (None of these)

Ans. (4)

24. किसने कहा- “जाति एक बन्द वर्ग है” ? (Who said Castesy a closed class” 7)

(1) मैाइवर (Maciver)

(2) ते (Risley)

(3) कुते (Cooley)

(4) मजुमदार एवं मदन (Majumdar and Madan)

25. नातेदारी की कितनी श्रेणियाँ होती हैं ? (How many categories of kinship are there ?)

(1) दी (Two)

(2) तीन (Three)

(3) चार (Four)

(4) पाँच (Five)

26. निम्न में से किसको नगरीकरण बढ़ावा देती है ? (Urbanization promotes which of the following ?)

(1) गुमनामता (Anonymity)

(2) ‘मैं’ की भावना (Feeling of 1)

(3) प्रदूषण (Pollution) 

(4) इनमें से सभी (All of these) 

Ans. (4)

27. किस समाज में सेवा विवाह का प्रचलन है ? (In which society marriage by service practised?)

((1) हिन्दू समाज में (Hindu society)

(2) मुस्लिम समाज में (Muslim society)

(3) जनजातीय समाज में (Tribal society)

(4) सिख समाज में (Sikh society)

Ans. (3)

28. मार्गन के अनुसार नातेदारी कितने प्रकार के होते हैं ? (How many types of kinship exist according to Morgan ?)

(1) एक (One)

(2) दो (Two)

(3) तीन (Three)

(4) चार (Four)

Ans. (2)

29. जाति व्यवस्था है (Caste system is)

(1) आर्थिक संस्था (economic institution)

(2) धार्मिक संस्था (religious institutefon)

(3) सामाजिक संस्था (social instituteion)

(4) राजनीतिक संस्था (political institution)

Ans. (3) 

30. निम्न में से कौन नातेदारी की रीति नहीं है ? (Which of the following is not a kinship usage ?)

(1) परिवार (Avoidance) 

(2) वर्गीकृत संज्ञाएँ (Classified terms)

(3) पहरहास संबंध (Joking relation)

(4) माध्यमिक संबोधन (Teknonymy)

31. धर्म के सामाजिक सिद्धांत से कौन जुड़े हुए हैं ? (Who is associated with social theory of religion ?)

(1) फ्रेजर (Frazer)

(2) g (Durkheim)

(3) मैक्स मूलर (Max Muller) 

(4) टायलर (Tylor)

Ans. (2) 

32. ‘बिटलाहा’ परम्परा किस समाज में पाई जाती है ? tradition is found in which society)

(1) मुस्लिम समाज ( Muslim society).

(2) आदिम समाज (Primitive society)

(3) सिख समाज ( Sikh society)

(4) नगरीय समाज (Urban society)

Ans. (2)

33. वर्ग संघर्ष का सिद्धांत किसने दिया ? (Who gave the theory of class struggle ?)

(1) कार्ल मार्क्स (Karl Marx)

(2) मैकाइवर (Maciver)

(3) रीजले (Risley)

(4) फ्रेजर (Frazer)

Ans. (1)

34. आदिवासी का शाब्दिक अर्थ है (Adivasi literally means)

(1) जंगल में रहने वाले (forest inhabitants)

(2) प्राचीन निवासी ( ancient inhabitants)

(3) अनैच्छिक निवासी (involuntary inhabitants)

(4) मूल निवासी (original inhabitants)

Ans. (2)

35. कृषक आन्दोलन के पिता कौन हैं ? (Who is the father of Peasant movement ?)

(1) महात्मा गाँधी (Mahatma Gandhi)

(2) जवाहरलाल नेहरू (jawaharlal Nehru)

(3) सहजानंद सरस्वती (Sahajanand Saraswati)

(4) दयानंद सरस्वती (Dayanand Saraswati)

Ans. (3)

36. अनुसूचित जनजाति को पहले किस नाम से पुकारा जाता था ? (Scheduled tribe was called by which of the following names earlier ? )

(1) आदिवासी (Adivasi)

(2) वन्य जाति (Wild people)

(3) जंगली जाति (Forest people)

(4) इनमें से सभी (All of these)

Ans. (1)

37. संस्कृतिकरण की अवधारणा of Sanskrition is given by) की देन है। 

(1) एम.एन. श्रीनिवास (M.N. Srinivas)

(2) ए.आर. देसाई (A. R. K. Mukherjee)

(3) आर. के. मुखर्जी (R. K. Mukherjee )

(4) इनमें से सभी (All of them)

Ans. (1)

38. जाति का आधार है (The bassis of caste is)

(1) धर्म (religion)

(2) अर्थव्यवस्था ( economy)

(3) जन्म (birth)

(4) प्रथा (custom)

Ans. (3)

39. परियोजना कार्य के कौन-से चरण हैं ? (Which is / are the step (s) of project work ?

(1) अध्ययन प्रविधि का चुनाव (Selection of study technique)

(2) तथ्यों का संकलन (Collection of data)

(3) अध्ययन विषय का चुनाव (Selection of subject of study)

(4) इनमें से सभी (All of these)

Ans. (4)

40. हरित क्रांति का उत्प्रेरक कौन है ? (Which of the following is a catalyst for Green revolution?)

(1) उपजाऊ (Fertile land)

(2) वर्षा (Rain)

(3) नये किस्म के बीज (New variety of seeds)

(4) नदी-नाले (River and canals)

Ans. (3)


Group – A खंड- ‘क’


( अति लघु उत्तरीय प्रश्न) (Very short answer type questions) किन्हीं पाँच प्रश्नों के उत्तर दें। (Answer any Five questions)


1. नगरीकरण को परिभाषित करें। (Define urbanization.)

Ans. नगरीकरण का तात्पर्य किसी क्षेत्र में नगरीय जनसंख्या के बढ़ने से ही नहीं होता बल्कि यह वह प्रक्रिया भी है जिसके द्वारा लोगों के सामाजिक और

आर्थिक संबंधों में परिवर्तन होने लगता है। 

2. संरचनात्मक परिवर्तन से आप क्या समझते हैं ? (What do you mean by structural change?) 

Ans. समाजशास्त्रियों ने सामाजिक परिवर्तन को दो भागों में विभाजित किया है- संरचनात्मक प्रक्रिया और सांस्कृतिक प्रक्रिया । परिवर्तन की प्रक्रिया संरचनात्माक, सामाजिक संबंधों, जाति, नातेदारी, परिवार और पेशेगत समूह के निर्माण से है। इनमें परिवर्तन संरचनात्मक परिवर्तन कहलाता है। 

उदाहरण के लिए कृषि कार्य जिसमें परिवार के सदस्य मिलकर खेती करते हैं, कृषि का परंपरागत तरीका है, परंतु जब तरीका बदलता है तो भाड़े पर श्रमिक लगाकर बाजार में बिक्री के लिए उत्पादन किया जाता है तो इसे हम संरचनात्मक परिवर्तन कहते हैं। 

संयुक्त परिवार प्रणाली के विघटन और एकाकी परिवार में परिवर्तन होना संरचनात्मक परिवर्तन है। संयुक्त परिवार परंपरागत थे। इनमें बच्चों का लालन-पालन, शिक्षा, व्यवसाय, सामाजिक सुरक्षा स्वयं ही प्राप्त हो जाती थी। परंतु एकाकी परिवार के प्रचलन से ये सभी क्रियाएँ विभिन्न संगठनों व संस्थाओं के द्वारा सम्पन्न की जाती हैं। 

स्कूल, आर्थिक संगठन, सरकारी विभाग और अन्य संस्थाएँ इन कार्यों को करती हैं। सामाजिक परिवर्तन लाने में औद्योगीकरण, आधुनिकीकरण और पश्चिमीकरण का विशेष योगदान है।

3. आधुनिकीकरण क्या है ? (What is modernization ?)

Ans. आधुनिकीकरण सांस्कृतिक व्यवहारों का एक विशेष रूप है जिसमें सार्वभौमिक विकास से संबंधित कुछ विशेषताएँ पायी जाती हैं। ये विशेषताएँ मानवतावाद से संबंधित होने के साथ किसी विशेष धर्म या विचारधारा पर आधारित नहीं होतीं।

4. पश्चिमीकरण की किन्हीं चार विशेषताओं को लिखें। (Write any four features of westernization.)

Ans. पश्चिमीकरण सामाजिक परिवर्तन की एक प्रक्रिया है। पश्चिमीकरण की चार विशेषताएँ निम्नलिखित हैं-

(i) अंग्रेजी शासन के कारण भारतीय समाज में होनेवाले परिवर्तन के अन्तर्गत ही पश्चिमीकरण की स्थिति हमारे देश में उत्पन्न हुई।

(ii) पश्चिमीकरण के अन्तर्गत विभिन्न स्तरों पर तकनीकी संस्थाओं विचारधारा तथा मूल्य में होने वाले परिवर्तन को शामिल किया जाता है।

(iii) पश्चिमीकरण शब्द भारतीय संस्कृति पर अंग्रेजों के प्रभाव की व्यवस्था करने के लिए उपयुक्त शब्द है ।

(iv) पश्चिमीकरण के द्वारा नए विचार और सिद्धांत सामने आये हैं। इसमें महत्वपूर्ण बात मानवतावाद है।

5. संस्कृतिकरण परिवर्तन की प्रक्रिया है, कैसे ? (Sanskritization is the process of change. How ?)

Ans. संस्कृतिकरण सामाजिकरण परिवर्तन की प्रक्रिया है। संस्कृतिकरण में नए विचारों और मूल्यों को ग्रहण किया जाता है। संस्कृतिकरण नए और उत्तम विचार, आदर्श मूल्य लोगों की आदत को बदलने की प्रक्रिया है। संस्कृतिकरण की प्रक्रिया में व्यक्ति और सामाजिक स्थिति में परिवर्तन होता है। अतः संस्कृतिकरण परिवर्तन की प्रक्रिया है। 

6. नगरीकरण का लौकिकीकरण से क्या संबंध है ? (What is the relation of urbanization with secularization?)

Ans. नगरीकरण का सौकिकीकरण या धर्मनिरपेक्षीकरण से सम्बंध से स्थापित होता है जब समाज में नगरिकरण की स्थिति बनती है तब लोगों में धर्म और जात-पात के आधार पर भेदभाव नहीं होता है। समाज के लोग इसलिए लौकीकरण या धर्मनिरपेक्षीकरण की भावना रखते हैं।

7. मानवतावाद का क्या अर्थ है ? (What is meant by humanism ?)

Ans. पश्चिमीकरण के द्वारा जो नये विचार और सिद्धांत सामने आये उनमें सबसे महत्त्वपूर्ण विचार था मानवतावाद यह सभी मनुष्यों के कल्याण के साथ संबंधित था। इसमें किसी प्रकार की भेदभाव नहीं होना चाहिए, चाहे वह किसी भी जाति, धर्म, आयु तथा लिंग का क्यों न हो। स्वतंत्रता और धर्म निरपेक्षता की अवधारणाएँ मानवतावाद की मूल अवधारणा में सम्मिलित हैं।

वास्तव में पश्चिमीकरण में मानद निहित है जिसने उन्नीसवी शताब्दी के प्रारंभिक वर्षों में भारत में एक नई चेतना से जन्म दिया और कई सुधारों को संभ बनाया। भारत में उस समय फैले हुए सती प्रथा, विन्दु हत्या तथा दास प्रथा पर रोक लगाने के लिए आवाज उठाई गई। पन्ना राममोहन राय, ईश्वर चंद्र विद्यासागर, दयानंद सरस्वती आदि समाज सुधारकों ने समाज को एक नई दिशा प्रदान की। राजा राममोहन राय के प्रयासों से सती प्रथा का अंत करने के लिए कानून बनाए गये।


SECTION – B खंड- ‘ख’


(लघु उत्तरीय प्रश्न) (Short answer type questions) किन्हीं पाँच प्रश्नों के उत्तर दें। (Answer any Five questions)


8. लोकतांत्रिक राजनीति में दबाव समूह के प्रकार्यों को स्पष्ट करें।

(Discuss the functions of pressure group in democratic politics.) 

Ans. लोकतांत्रिक राजनीति में दबाव के विभिन्न प्रकार के जो निम्नलिखित है-

(i) जनमत का निर्माण हित या दवाव समूह समाचार-पत्रों में अपने लेख लिखवाते है, पोस्टर निकालते है। 

(ii) समाचार-पत्रों पर नियंत्रण करना जनमत को अपने पक्ष में बनाने के लिए विभिन्न दित समूह समाचार-पत्रों पर नियंत्रण करके उनके माध्यम से अपने हितों का प्रचार करते हैं। इसके लिए वे अपने समाचार-पत्र भी निकालते है तथा समाचार-पत्रों के सम्पादकों व स्तंभ लेखकों को प्रभावित करते हैं।

(iii) हड़ताल और प्रदर्शनों की व्यवस्था करना कई बार जब दबाव समूह यह देखते है कि सरकार उनके हितों की ओर ध्यान नहीं दे रही तो ये सरकार का ध्यान अपनी ओर आकृष्ट करने के लिए प्रदर्शनों का आयोजन करते है और हड़ताल करवाते हैं। इन तरीकों से ये सरकार पर दबाव डालते हैं

(iv) निर्वाचन के समय राजनीतिक दलों का समर्थन करना-देश में जय भी चुनाव होते हैं हित व दबाव समूह अपनी-अपनी पसन्द के राजनीतिक दलों के प्रत्याशियों का समर्थन करते हैं। जब हित समर्थक विधायक चुनाव जीत जाते हैं तो वे हित समूहों के लिए उचित कानून बनवाते है।

(v) विधायी समितियों को प्रभावित करना किसी भी विधेयक से पास होने से पहले उस पर विधायी समितियों में भलीभांति से खेच-विचार किया जाता है। अतः हित समूह समिति के सदस्यों को कई तरीकों से प्रभावित करते है और अपना पक्ष प्रस्तुत करते हैं। ये अपने हितों के अनुरूप विधेयकों में आवश्यक संशोधन करवाते है। 

(vi) विधायकों को जनता से पत्र लिखवाना विधायकों को प्रभावित करने के लिए वे अपने हितों की पूर्ति के लिए हित समूह जनता से बड़ी संख्या में संबंधित विधायकों को व सरकार तथा शासनाध्यक्ष को पत्र लिखते हैं, तार भिजवाते हैं। इस प्रकार वे अपने हितों को ध्यान में रखते हुए किसी विधेयक के समर्थन या विरोध की बात कहते हैं।

(vii) प्राकृतिक प्रकोप के समय सहायता देना हित समूह किसी प्राकृतिक प्रकोप के समय जैसे बाढ़ आने पर या भूकम्प आने पर उत्पन्न हुई लोगों की कठिनाइयों को दूर करने के लिए प्रयास करते हैं। इस प्रकार के जनसाधारण का जनमत अपने पक्ष में कर लेते हैं। ये सरकार को भी प्रभावित करते हैं।

9. राजव्यवस्था की विशेषताओं को स्पष्ट करें। (Discuss the feacutes of polity.)

Ans. राजव्यवस्था राजनीतिक व्यवस्था से सम्बंध रखता है। राजव्यवस्था की विभिन्न विशेषताएँ होती है जो निम्नलिखित है-

(i) राजव्यवस्था में राजनीतिक बातों को शामिल किया जाता है।

(ii) राजव्यवस्था राजनीतिक शास्त्र का एक हिस्सा है।

(iii) राजव्यवस्था में प्राचीन राजनीतिक शास्त्र के साथ साथ आधुनिक राजनीतिक शास्त्र की सभी बातें पायी जाती है।

(iv) राजव्यवस्था में देश का शासन कार्य किस पद्धति के आधार पर चलाया जाता है। इसका भी अध्ययन किया जाता है। जैसे राजतंत्र शासन व्यवस्था तथा प्रजातंत्र शासन व्यवस्था ।

10. भूमण्डलीकरण के प्रभाव तथा समस्याओं का वर्णन करें। (Discuss the effect and problems of globalization.)  

Ans.. भूमंडलीकरण की प्रक्रिया से निम्नलिखित लाभ हुए हैं-

(i) विदेशी निवेश में वृद्धि, (ii) रोजगार के अवसरों में वृद्धि, (iii) आर्थिक विकास, (iv) अंतर्राष्ट्रीय सहयोग का प्रोत्साहन, (v) महिला जागरुकता में वृद्धि, (vi) कृषि उत्पादन में वृद्धि, (vii) जीवन की गुणवत्ता में सुधार।

भूमंडलीकरण की समस्याएं- भूमंडलीकरण की प्रक्रिया का प्रतिकूल प्रभा भी पड़ा है, जिससे अनेक समस्याएँ उत्पन्न हुई है जैसे- में

(i) आर्थिक असमानताओं वृद्धि, (ii) अकुशल लोगों में (iii) कमजोर वर्गों का शोषण और राष्ट्रवाद की कमी, (iv) सांस्कृतिक पहचान है लिए खतरा, (v) श्रमिक संगठनों की शक्ति में कमी, (vi) उपभोक्ता में वृद्धि (vii) कमजोर वर्गों और श्रमिकों की आर्थिक समस्याओं में वृद्धि।

11. राजनीतिक दल के प्रकारों को उजागर करें (Highlight ite types of political party.)

Ans. राजनीतिक दल विभिन्न प्रकार के होते है जैसे-राष्ट्रीय राजनीतिक राज्यकृत राजनीतिक दल, क्षेत्रीय राजनीतिक दल तथा पंजीकृत राजनीतिक

इत्यादि। राष्ट्रीय राजनीतिक दल पूरे देश स्तर पर होते है। जबकि राज्य या राजनीतिक दल किसी भी राज्य के क्षेत्र या स्थानीय राजनीतिक दल होते हैं। 

भारत में 7 राष्ट्रीय राजनीतिक दल 36 राज्यमान्यता प्राप्त दल तथा 329 • राजनीतिक दल और लगभग 2045 पंजीकृत या अपरिचित राजनीतिक दल शामिल है। 

12. ताना भगत आन्दोलन क्या है? (What is Tana Bhagat movement ?) 

Ans. ताना भगत आन्दोलन की शुरुआत 1914 ई. में बिहार में हुई थी। यह आन्दोलन लगन की ऊँची दर तथा चौकीदारी कर के विरुद्ध किया गया था। इस आन्दोलन के प्रवर्तक जतरा भगत को जिसे कभी बिरसा मुण्डा, कभी जमी तो कभ कैंसर बाबा के समतुल्य होने की बात कही गयी है। इसके अतिरिक्त इस आन्दोलन

के अन्य नेताओं में बलराम भगत गुरुरक्षितणी भगत आदि के नाम प्रमुख थे। 

13. भारत में मौलिक अधिकार क्या है ? (What is fundamental right in India ?)

Ans. भारतीय संविधान ने सभी नागरिकों को कुछ मूलभूत अधिकार प्रदान किए हैं। ये मौलिक अधिकारों के रूप में जाने जाते हैं। इन्हें मूलभूत अधिकार इसलिए कहा जाता है क्योंकि ये मानव के अस्तित्व के लिए आवश्यक है। हमारे संविधान के संदर्भ में मौलिक अधिकार इसलिए कहे जाते हैं क्योंकि वे लिखित संविधान द्वारा सुरक्षित हैं।

14. भारतीय स्त्रियों की निम्न स्थिति के दो कारणों का उल्लेख करें। (Mention two causes of lower status of Indian women.) 

Ans. भारतीय स्त्रियों के निम्न स्थिति के विभिन्न कारण है-जिनमें दो निम्नलिखित है- कारण

(i) पुरानी विचारधारा भारत में आज भी भारतीय स्त्रियों के सम्बंध में पुरानी विचारधारा बनी हुई है। हमारे देश की स्त्रियों अधिकतर धार्मिक विचारधारा की होती है। इनमें नयी विचारधारा और आधुनिक विचारधारा नहीं पायी जाती है। परिणामस्वरूप भारतीय स्त्रियों की स्थिति निम्न है। यही कारण है कि आज ये प्रगति नहीं कर रही है और इनका जीवन स्तर भी निम्न बना हुआ

(ii) आधुनिक और वैज्ञानिक शिक्षा की कमी आज भी भारतीय स्त्रियों में शिक्षा की कमी है विशेष रूप में आधुनिक शिक्षा और तकनीकी शिक्षा की कमी भारतीय स्त्रियों में पायी जाती है। शिक्षा की कमी होने से स्त्रियाँ धीरे-धीरे विकास करती है। साथ ही इनका जीवन स्तर भी निम्न बना रहता है परिणाम स्वरूप भारतीय स्त्रियों की स्थिति निम्न बनी हुई है।


SECTION – C खंड- ‘ग’


(दीर्घ उत्तरीय प्रश्न) (Long answer type questions) किन्हीं तीन प्रश्नों के उत्तर दीजिए। (Answer any Three questions)

15. जनजातीय आन्दोलन की प्रकृति को स्पष्ट करें। (Discuss the nature of tribal movement.)

Ans. जनजातीय आन्दोलन की प्रकृति यह है कि देश भर में फैले विभिन्न जनजातीय समूहों के मुद्दे समान हो सकते हैं। लेकिन उनके विभेद भी उतने ही महत्वपूर्ण है। जनजातीय आन्दोलन में से कई एकांश रूप से भारत की जनजातिय बेल्ट में स्थिर रहे हैं। जैसे छोटा नागपुर के संथाल प्रगना में स्थित संचाल हो या उरांव हो या मुण्डा जनजाती हो। झारखण्ड राजा का मुख्य भाग

इन्ही से बना है। झारखण्ड में जनजातीय समाज का इतिहास 100 वर्ष पुराना है। 

16. उपनिवेशवाद क्या है ? इसकी विशेषताओं को स्पष्ट करें। (Whal is colonialism ? Discuss its characteristics.) 

Ans. उपनिवेशवाद क्या है-उपनिवेश का तात्पर्य उन शासक या प्रशासक तंत्र से है जो साम्राज्य का विकास करना चाहता है, तब वह उपनिवेशवाद को

अपनाता है। सशक्त शासक जब दूसरे शासक को पराजित करके अपने साम्राज्य के तहत विभिन्न उपनिवेश स्थापित करता है, तो ऐसी क्रिया को ही उपनिवेशवाद द्वा कहा जाता है।

उपनिवेशवाद की विशेषताएँ-उपनिवेशवाद की निम्नलिखित विशेषताएँ हैं- 

(i) उपनिवेशवाद शक्तिशाली राष्ट्रों की विस्तारवादी प्रकृति को स्पष्ट करता है।

(ii) उपनिवेशवाद वह दशा है जिसमें एक शक्तिशाली देश अपने से दुत में देश पर अधिकार करके वहाँ शासन तथा कानून व्यवस्था स्थापित कर लेता है।

(iii) उपनिवेशवाद दीर्घकालीन शोषण नीति पर आधारित होता है। 

(iv) उपनिवेशवाद में विदेशी सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की वैसी नीतियों को लागू किया जाता है जिससे देश के मूल निवासी आर्थिक दृष्टि से बहुत ही कमजोर हो जाते हैं।

(v) उपनिवेशवाद में शासक देश द्वारा देश के मूल निवासी पर प्रत्यक्ष रूप से अपनी संस्कृति, सामाजिक मूल्यों और आर्थिक क्रियाओं में परिवर्तन लाने के लिए दबाव डाला जाता है।

17. औद्योगिकरण के प्रमुख कारकों को विश्लेषित करें। (Analyse the main factors of industrialization.)

Ans. औद्योगिकीकरण तकनीकि उन्नति की वह प्रक्रिया है जो सामान्य ‘उपकरणों से चलने वाली घरेलू उत्पादन से लेकर बड़े पैमाने के कारखानों को उत्पादन तक सम्पन्न होती है। औद्योगिकीकरण के विभिन्न कारक होते हैं जैसे बड़ी मात्रा में पूँजी का होना तकनीकी का विकास होना। 

प्रौद्योगिकी वातावरण का होना इत्यादि कारक प्रमुख है। इन सभी के चलते देश में औद्योगिकीकरण की स्थिति पायी जाती है। इसमें कृषि के साथ साथ देश में सभी प्रकार के उद्योग धंधों का समुचित विकास होता है। परिणामस्वरूप राष्ट्रीय आय में वृद्धि होती है। औद्योगिकीकरण के चलते बड़े पैमाने के संगठित एवं

आधारभूत उद्योग धंधों का समूचित विकास होता है। 

18. भारत के परम्परागत धार्मिक जीवन पर लौकिकीकरण के प्रभाव को स्पष्ट करें। (Discuss the effects of secularization on traditional religious life of India.)

Ans. भारत के परम्परागत धार्मिक जीवन पर लोकीकरण या धर्मनिरपेक्षीकरण का समूचित प्रभाव पड़ा है।

पश्चिर्मीकरण सामाजिक परिवर्तन की दूसरी बड़ी प्रक्रिया है। पश्चिमीकरण शब्द का प्रयोग भारत में सामाजिक और सांस्कृतिक परिवर्तन के बाहरी स्रोतों का विश्लेषण करने के लिए किया गया है। 

पश्चिमीकरण की अवधारणा में 150 वर्षों से अधिक के अंग्रेजी शासन के फलस्वरूप भारतीय समाज में आए परिवर्तन तथा विभिन्न स्तरों पर प्रौद्योगिकी संस्थाओं, विचारधारा तथा मूल्यों में आए परिवर्तन शामिल हैं। 

पश्चिमीकरण शब्द भारतीय संस्कृति पर अंग्रेजों के प्रभाव की व्याख्या करने के लिए उपयुक्त शब्द है। पश्चिमीकरण द्वारा नए विचार और सिद्धांत सामने आए। इनमें से सबसे महत्त्वपूर्ण मानवतावाद है। 

इसमें समानता, स्वतंत्रता और धर्मनिरपेक्षता की अवधारणाएँ मानवतावाद की मूल अवधारणा में शामिल हैं। पश्चिमीकरण का दूसरा प्रभाव व्यवसायी, मध्यवर्ग तथा व्यापारी वर्ग का उदय था। पश्चिमीकरण ने राजनीतिक विचारों तथा सोच को भी प्रभावित किया।

संस्कृति ऐसे विचारों, प्रतीकों और भौतिक उत्पादों का समुच्चय है जो एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी से हस्तांतरित होती है। 

संस्कृति सामाजिक गतिविधियों का नियमन

करती है। परिवर्तन की सांस्कृतिक प्रक्रियाएँ उन विभिन्न तरीकों को दर्शाती हैं जिनके द्वारा भारतीय संस्कृति में आरंभ हुए विविध परिवर्तनों को प्रभावित करती है। भारत की सांस्कृतिक संरचना में परिवर्तन आंतरिक और बाह्य दोनों प्रकार के स्रोतों से उत्पन्न हुए हैं। सांस्कृतिक प्रक्रियाओं की अवधारणा संस्कृतिकरण, इस्लामीकरण, पश्चिमीकरण और धर्म-निरपेक्षीकरण के माध्यम द्वारा स्पष्ट की जा सकती है। 

संस्कृतिकरण भारत में सामाजिक और सांस्कृतिक परिवर्तनों की व्याख्या करने की सर्वाधिक प्रभावशाली अवधारणा है। संस्कृतिकरण एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें निम्न हिन्दू जाति अपनी परंपरा, रीति-रिवाज, सिद्धांत और जीवन-शैली को एक उच्च और द्विज जाति के नियमों में परिवर्तित कर देती है। अपने कई रीति-रिवाजों को अपवित्र समझकर छोड़ दिया जाता है। 

संस्कृतिकरण किसी जाति की उच्च स्थिति के लिए आंतरिक स्रोत है। संस्कृतिकरण हिन्दू जातियों तक ही सीमित नहीं है, यह आदिवासी समूहों में भी पाया जाता है। संस्कृतिकरण की प्रक्रिया भारत के प्रत्येक भाग में हुई है। इस प्रक्रिया ने नई जातियों और उपजातियों को भी जन्म दिया। संस्कृतिकरण एक ऐसी प्रक्रिया है जो विभिन्न जातियों की प्रतिष्ठा में परिवर्तन लाती है।

धर्म-निरपेक्षीकरण सामाजिक परिवर्तन की एक अन्य प्रक्रिया है जिसके द्वारा सार्वजनिक मामलों में धर्म का प्रभाव कम होता जाता है। धर्म-निरपेक्षीकरण शब्द का सांकेतिक अर्थ है कि वे मुद्दे जो पहले धार्मिक समझे जाते थे अब उसी रूप में नहीं देखे जाते। भारत में धर्मनिरपेक्षता एक शताब्दी में पश्चिमीकरण का परिणाम है। औद्योगीकरण और नगरीकरण में स्थानिक गतिशीलता में वृद्धि हुई है। 

लोग नगरों में रोजगार की खोज में आते हैं। शिक्षा के प्रचार-प्रसार में धर्मनिरपेक्षता की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने में सहायता की. है। स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान धर्मनिरपेक्षता की भावना में सुधार हुआ। व्यक्ति के सामाजिक जीवन के हर पहलू को इसने प्रभावित किया है। अब पवित्रता और अपवित्रता की धारणा कमजोर हुई है। धर्म और जाति के रूढ़िवादी तत्त्व धीरे-धीरे अपनी प्रतिष्ठा खो रहे हैं। 

वास्तव में सामाजिक परिवर्तन के कारण समाज में रहने वाले लोगों के जीवन में भी महत्त्वपूर्ण परिवर्तन हुए हैं। सांस्कृतिक परिवर्तन होने से संस्कृतिकरण और धर्मनिरपेक्षीकरण के अच्छे परिणाम सामने आए हैं।

19. ग्रामीण एवं नगरीय वर्ग संरचना में परिवर्तनों को स्पष्ट करें। (Discuss the changes in rural and urban class structures.)

Ans. ग्रामीण एवं नगरीय वर्ग संरचना में आजकल परिवर्तन की प्रकृति दिखाई पड़ती है। गाँव के क्षेत्रों में रहने वाले व्यक्तियों के समूह को ग्रामीण वर्ग माना जाता है। इसकी संरचना में भी परिवर्तन हो रहा है। 

आमीण वर्ग के लोग गाँव में जीवन यापन करते हैं जिनका मुख्य पेशा कृषि कार्य करना है और अपना जीवन यापन चलाना है आजकल आधुनिकीकरण होने से ग्रामीण वर्ग संरचना में परिवर्तन दिखाई पड़ता है।

नगरीय वर्ग संरचना में भी परिवर्तन हो रहा है। नगरों में रहने वाले लोगों के वर्ग को नगरीय वर्ग कहा जाता है। नगरों में पश्चिमीकरण होने से नगरों में रहने वालों का जीवन आधुनिक बन चुका है। 

आज शहर के लोग आधुनिक जीवन शैली के आधार पर अपना जीवन बिताते हैं। नगरों में रहने वाले लोग नौकरी पेशा व्यापारी और उद्योगपति होते हैं। नगरों में अधिकतर लोग पढ़े-लिखें होते हैं। नगरीय वर्ग संरचना में प्रदूषण की स्थिति पायी जाती है। इससे लोगो के सामने विभिन्न समस्यायें सामने आती है। वास्तव में आजकल नगरीय वर्ग संरचना में परिवर्तन हो रहा है।




Leave a Comment